Pari Ki Kahani

Pari Ki Kahani राजकुमार और दो Pariyon Ki Kahani [2020]

Pari Ki Kahani दो Pari Ki Kahani एक अम-की पेड़ पर दो परी रहता था जिनमें एक परी का नाम था देव परी और दूसरी पारी के नाम था अंजलि परी, एक दिन एक राजा का बेटा व्यापार करने के लिए जा रहा था रास्ते पर जाते जाते शाम का समय हो गया ऐसे में राजा के बेटा उस अम-की पेड़ के पास जाकर बैठ गया जिस आम-की पेड़ पर दो परी रहता था,

राजा के बेटा पेड़ के नीचे बैठने के बाद पेड़ को देखने लगा पेड़ पर बोहथ सारे पक्के हुए आम लगे थे राजा के बेटे को भूक भी लगे थे ऐसे में उसने पेड़ पर से आम तोड़-कर खाने की सोचे, और आम तोड़ने के लिए पेड़ पर चढ़ गया, पेड़ पर चढ़ने के बाद वो देखता हैं के पेड़ की एक डाल पर एक खूबसूरत परी बैठी हैं, राजा के बेटे को देखकर वह परी ने कहा- कोन हो तुम ? इस पेड़ के ऊपर किसलिए आए हों ? राजा के बेटे ने कहा की मुझे भूख लगी हैं और में कुछ आम खाकर अपनी पैठ भरना चाहता हूं,

देव परी ने कहा नहीं आप आम मत तोड़े मेरे बेहन अंजलि परी अगर आकर आपको आम तोड़ते हुए देखे तो वो आपको सजा देगा,

राजा के बेटे का बार बार कहने से देव परी ने उन्हें एक आम तोड़-कर खाने के लिए बोला

राजा के बेटे एक आम तोड़-कर खा-ही रहा था इतनी में अंजलि परी आ गया

देव परी और अंजलि परी दो Pariyon Ki Kahani

Pari Ki Kahani
Pari Ki Kahani

अंजलि परी उस-को आम तोड़-कर खाते देखकर गुस्से से कहा कोन हो तुम और आम तोड़-कर क्यों खा रहे हो ? राजा के बेटे ने कहा- में एक राजा का बेटा हूं व्यापार करने के लिए इस रास्ते से जा रहा था और जाते जाते शाम हो गया और मैं इस आम-कि पेड़ के पास बैठ गया,

इतने में मुझे भूख लगी तो मैने आपके बेहन को बताया और एक आम तोड़-कर खा रहा था इतने में आप आये,

मुझे बोहथ भूख लगी मुझे कुछ और आम दीजिए में आम खाकर सो जऊंगा सुबह होने पर में यहां से चले जाऊंगा,

अंजली परी ने बताया मैं आपको खाने के लिए आम दूँगा लेकिन मेरा एक काम कर देना होगा आपको राजा के बेटे ने कहा क्या काम करना होगा मुझे

अंजली पुरी ने बताया आपको यहां से सात समंदर की दूरी पर जाना होगा वहां पर एक राजा रहते हैं

उसका एक बेटी हैं और उसकी बेटी के साथ तुम्हें शादी करना होगा,

तो क्या आप सात समंदर की दूरी पर जा सकते हो ? और उस राजा की बेटी के साथ शादी कर सकते हो ?

तू राजा की बेटी ने कहा हां मैं कर सकता हूं कितने में अंजली परी ने उन्हें खाने के लिए बहुत सारे आम दिया राजा के बेटा

आम खाकर रात में सो गया सुबह होने पर घोड़ा लेकर समंदर की तरफ चल दिया देव पुरी अंजली परी को

बताया कि आपने यह ठीक नहीं किया वह राजा का बेटा सात समंदर कैसे पार कर सकते हैं ?

यह तो आपने उन्हें बहुत मुश्किल काम में फँसा दिया अंजली परी ने बताया नहीं बहन,

Pari Ki Kahani In Hindi

हमने उन्हें ज्यादा मुश्किल काम में नहीं फंसा-या हैं वह जब समंदर के पास पहुंचेगा हम उन्हें वहां से उड़ा कर सात समुंदर की उस-पर पहुंचा देंगे,

देव पुरी ने बताया तो चलिए इतने में वह दोनों समंदर के किनारे के पास जा पहुंचा

कुछ देर के बाद राजा के बेटे भी वहां पर आ पहुंचा राजा के बेटा सोचने लगा की

कैसे में इस समुन्दर को पर करू इतने में दो परी उनके पास आया और बताया

ये राजा के बेटा तुम डरे नहीं हम आपको इस समुन्दर के उस पार तक पहुंचा देंगे आप हमारे पन-खो पर बैठे,

जब राजा के बेटे परियों के पान-खो में बैठे तो परियों ने उसे उड़ा कर उसे समंदर के उस-पर राजा के देश में ले गया,

उसके बाद अंजली परी ने राजा के बेटे को यानी राजकुमार को कहा

अब तुम अपना काम करो यानी राजकुमारी के साथ शादी करो राजा-के बेटे यानी राजकुमार उस राजा के दरबार में पहुंचा

वहां पहुंचने के बाद उनको पता चला उस राजा की बेटी यानी

राजकुमारी की तबीयत खराब हैं राजकुमार राजा के पास जाकर राजा से कहा के राजकुमारी को क्या हुआ हैं

राजा ने बताया कुछ दिन पहले मेरे बेटी की तबीयत खराब हो गया और मुझे ख़्वाब में दिखा, राजकुमारी तभी ठीक हो सकता हैं

जब उसे देवपुरी और अंजलि परी की आम के झाड़ में से एक आम खिला-या जाए, तब से मेंने बहुत कोशिश किया देवपुरी और अंजलि परी की

आम की झाड़ को तलाश करने की लेकिन, किसे पता देव परी अंजलि परी की आम की झाड़ कहां हैं,

जब तक राजकुमारी को उस आम की झाड़ में से एक आम राजकुमारी को नहीं खिला-या जाता हैं,

तब तक राजकुमारी ठीक नहीं होगा, तब से मैं बहुत परेशान हूं, पता नहीं राजकुमारी कब ठीक होगा,

राजकुमार ने राजा के सभी बातों को अच्छे से सुना फिर राजा को बताया

देव परी और अंजलि परी की पेड़ की आम में लाकर दूँगा लेकिन मेरा एक शर्त हैं राजा ने पूछा क्या शर्त ?

राजकुमार ने बताया राजकुमारी ठीक होने पर मेरे साथ राजकुमारी की शादी देना होगा राजा कुछ देर सोचने के बाद

राजकुमार से कहां मेरे लिए मेरी बेटी सब कुछ हैं अगर तुम
देव परी अंजलि परी के पेड़ में से आम लेकर मेरे बेटी को खिलाते हो और वह

ठीक हो जाते हैं तो मैं आपके साथ मेरी बेटी की शादी दे दूँगा,

यह बात सुनने के बाद राजकुमार वहां से चले वहां से समंदर के पास पहुंचा

जहां पर उन दो परियों ने राजकुमार को छोड़ा था, वहां पर जाकर देखता है

दोनों परिया वहां पर बैठे हैं राजकुमार को उन दोनों परियों ने देखकर पूछा क्या बात हैं

तुम वहां पर जाकर क्या देखे हो ? राजकुमार ने उन्हें राजकुमारी की बारे में सभी बातें बताया, के जब तक राजकुमारी को आपकी आम की झाड़ में से

एक आम नहीं खिला-या जाता हैं तब तक वह ठीक नहीं होगा, इसलिए मैं आपके पास आया हूं कि आप मुझे

एक आम दीजिए ताकि मैं राजकुमारी को खिलाऊं और राजकुमारी ठीक हो जाए,

अंजली परी ने बताया समंदर की उस पार से आम कौन लेकर आएगा और आपको आम देकर हमें क्या फायदा ?

इतने में देव परी ने बताया बहन अंजलि आप राजकुमार को

इतने परेशानी में क्यों डाल रहे हो उन्हें एक आम दे-दो इससे राजकुमारी ठीक हो जाएगा,

और राजा के बेटे यानी राजकुमार से राजकुमारी का शादी हो जाएगा, और रहा बात आम लाने की तो

आम में ला कर देता हूं अंजली परी ने कहा ठीक हैं,

देव पुरी राजकुमार को कहां आप यहां पर बैठी मैं आम लेकर अभी आता हूं,

ऐसे में राजकुमार समंदर के बाजू में अंजलि परी के साथ बैठे रहा कुछ देर के बाद देव परी उनके आम के पेड़ में-से

दो आम लेकर आया और राजकुमार को दे दिया राजकुमार उन दोनों आम को लेकर राज दरबार में जा पहुंचा,

जाने के बाद राजा उनसे पूछा क्या बात हुआ आप आम लेकर आए हैं ? राजकुमार ने बताया हां

मैं आम लेकर आया हूं ऐसे में राजा ने राजकुमार को कहां वो आम मुझे दो मैं जाकर खिलाता हूं,

राजकुमार ने राजा को बताया नहीं ये आम मैं आपको नहीं दे सकता हूं,

देव परी और अंजलि परी ने बताया हैं अगर ये आम मैं उनको अपने हाथों से खिलाओ – Pari Ki Kahani

तभी राजकुमारी ठीक होगा राजा ने कहा ठीक हैं उसके बाद राजा राजकुमार को लेकर राजकुमारी के घर पर गए राजकुमार जाकर देखता हैं

पलंग के ऊपर राजकुमारी सोई हुए हैं राजकुमार ने राजकुमारी से कहां आप

उठिए मैं आपके लिए देव परी और अंजलि परी की आम की झाड़ से

आपके लिए आम लेकर आया हूं जिसको खाने से आप

ठीक हो जाएंगे उठिए और इन आम को मेरे हाथों से खाए इससे आप ठीक हो जाएंगे,

राजकुमारी उठ-कर बैठ और राजकुमार ने आम को काट कर खुद अपने हाथ से राजकुमारी को खिला-या कुछ देर बाद राजकुमारी की

तबीयत ठीक हो गया, राजा अपने बेटी के लिए बहुत परेशानी में थे

पता नहीं मेरे बेटी की तबीयत ठीक होगा या नहीं इतने में राजकुमार ने राजा से कहा

अब सोचने की कोई बात नही मैने अपनी काम किया अब आप अपने शर्त को पूरा करें,

राजा ने कहा हां अपने मेरे बेटी की तबीयत को ठीक किए हैं – Pari Ki Kahani

और में भी अपना शर्त को पूरा करूंगा राजकुमारी के साथ आपकी शादी जरूर दूँगा,

उसके बाद राजदरबार के अंदर सभी मंत्रियों को बुलाया गया और राजा उन सभी मंत्रीमंडल के सामने

अपनी बेटी राजकुमारी की शादी राजकुमार के साथ देने का फैसला सुनाया इससे कुछ मंत्री नाराज हो गए,

उनका कहना था इस लड़के को आप अच्छे से जानते नहीं हैं यह कौन से देश की राजा का बेटा हैं

उस राजा को आप पहचानते भी नहीं हैं, ऐसे में राजकुमारी के साथ इनकी शादी आप कैसे दे सकते हैं,

राजा ने कहा राजकुमार ने अपने वादा पूरा किया हैं, बहुत मेहनत से वो

देव परी और अंजलि परी की आम की झाड़ में से आम लेकर आया और राजकुमारी को ठीक किया हैं,

और मेंने राजकुमार को कहा था मेरे बेटी राजकुमारी को अगर वह ठीक करते हैं,

तो मैं उनके साथ राजकुमारी की शादी दूँगा,

ऐसे में राजकुमार ने आम लेकर आया और राजकुमारी को खिला-या जिससे राजकुमारी ठीक हो गया,

इसलिए मैं अपनी बेटी की शादी इस राजकुमार के साथ ही दूँगा,

उसके बाद राजकुमार के साथ राजकुमारी का शादी हो गया,

राजकुमार ने अंजलि परी से किया हुआ शर्त को पूरा किया,

और राजा ने राजकुमार से किया हुआ शर्त को पूरा किया,

इसके बाद आगे क्या होता हैं वह हम अगले पार्ट में आपके साथ शेयर करेंगे

यह Pari Ki Kahani आपको कैसा लगा हमें कॉमेंट कर जरूर बताएं

अच्छे अच्छे स्टोरी के लिए www.newstorylife.com से बने रहे,

1 thought on “Pari Ki Kahani राजकुमार और दो Pariyon Ki Kahani [2020]”

  1. Pingback: Bhooto Ki Kahani 5 भूतों की कहानी जो आपको भी पसंद आने वाले हैं Horror Story

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top